हंगामे के बीच राज्यपाल ने पढ़ा अभिभाषण

विपक्ष ने जहरीली शराब के मुद्दे पर किया हंगामा 

0

देहरादून। विधानसभा के बजट सत्र का भाषण राज्यपाल ने विपक्ष के हंगामे के बीच पढ़ा। राज्यपाल ने अभिभाषण में सरकार की खूबियां गिनाई। वहीं विपक्ष ने राज्यपाल अभिभाषण के दौरान अवैध शराब पीकर हुई मौत पर जमकर हंगामा काटते हुये सदन का वाक आऊट कर दिया और गैलरी में जाकर धरने पर बैठ गये। विधानसभा बजट सत्र की शुरूआत राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू हुई। राज्यपाल ने जैसे ही अपना अभिभाषण की शुरूआत की विपक्ष ने हंगामा करना शुरू कर दिया । विपक्ष के विधायक हाथों में तख्तियां लिये राज्यपाल के सामने आ गये और सरकार पर फेल होने का आरोप लगाने लगे। विपक्ष के विधायको ंका कहना था कि सरकार की लापरवाही से हरिद्वार जिले व यूपी में सैकड़ो लोग जहरीली शराब पीकर मौत के शिकार हो गये। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि स्थानीय लोगों व अंग्रेजी लाइसेंस धारी मालिकों द्वारा पूर्व में ही कच्ची शराब बननेकी शिकायत की थी लेकिन सरकार व प्रशासन ने कोई कार्यवाही नही की। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार पूरी तरह फेल है, अपराधी बेखौफ वारदात कर रहें है। कच्ची शराब माफिया सरकार पर हावी हैं, उन्होंने आबकारी मंत्री का इस्तीफा मांगते हुये कहा कि विभागीय मंत्री को अपने पद से तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए। विपक्ष के हंगामे के बीच ही राज्यपाल ने अपना अभिभाषण पढ़ते हुये बताया कि उनकी सरकार प्रदेश के विकास के नए आयाम स्थापित कर रही है। राज्यपाल ने कहा कि सरकार द्वारा सरकारी योजनाओ को जन-जन तक पहुंचाने के लिए ऑनलाईन प्रकिया को बढ़ावा दिया है। साथ ही राज्य महिला प्रकोष्ठ का गठन किया गया ,होमगार्ड व स्वंय सेवकों का मानदेय बढ़ाकर उनकी संख्या दस हजार से ऊपर की जा रही है। बेरोजगार युवकों को कौशल विकास के माध्यम से योजनाओं का लाभ प्रशिक्षण के बाद दिया जा रहा है, वही राज्य में संस्कृत भाषा को बढ़ावा दिया जा रहा है। एससी के निर्धन छात्राओं को शिक्षा अध्ययन सामग्री, आवास, भोजन, वस्त आदि उपलब्ध कराये जा रहें है। ऐसे किसान जो स्वंय की जमीन पर खेती कर रहें है उनको प्रति माह एक हजार पेंशन दी जा रही है। इसके राज्यपाल ने प्रदेश सरकार विभाग से जुड़ी योजनाओं की जानकारी दी। जिसके बाद सदन भोजनवकाश तक स्थगित कर दिया गया।

अभिभाषण के दौरान राज्यपाल की तबीयत बिगड़ी

देहरादून। राज्यपाल जब अभिभाषण पढ़ रही थी तब विपक्ष उनके सामने जमकर शराब के मुद्दे पर हंगामा कर रहा था। राज्यपाल ने 15 मिनट तक अपना अभिभाषण पढ़ा लेकिन इसी बीच उनकी तबीयत बिगड़ने लगी, जिस पर राज्यपाल के सुरक्षाधिकारी ने अभिभाषण का अंतिम पैरा पढ़ने की सलाह दी। जिसके बाद राज्यपाल ने बड़ी मुश्किल से अंतिम पैरा पूरा किया।

राज्यपाल ने 5 मिनट पहले पढ़ा अभिभाषण

देहरादून। सदन में आज विधानसभा की कार्यवाही 5 मिनट पहले शुरू होने से विपक्ष के सत्ता पक्ष भी हैरत में पढ़ गया। मीडिया गैलरी में पत्रकार भी इस पर चर्चा करने लगे। हुंआ यू कि राज्यपाल ने अभिभाषण 5 मिनट पूर्व ही देना शुरू कर दिया, जबकि विधानसभा की कार्यवाही 11बजे शुरू होती है।विपक्ष की नेता ने राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान ही इस बात पर टोका, लेकिन राज्यपाल नही रूकी, उन्होंने विस अध्यक्ष से भी समय से पहले सदन चलने पर जवाब मांगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!