आग से बीस एकड़ गेहूं की नाड़ सहित ट्रैक्टर खाक

0

गदरपुर। गेहूं की कटाई के बाद बची नाड से भूसा बनाए जाने के दौरान ट्रैक्टर से निकली चिंगारी ने विकराल रूप ले लिया जिसके परिणाम स्वरूप करीब 20 एकड़ भूसा बनाने के लिए छोड़ी गई नाड और भूसा बना रहा ट्रैक्टर जलकर राख हो गया। आग लगने की सूचना के डेढ़ घंटे बाद फायर बिग्रेड का वाहन मौके पर पहुंचा परंतु रास्ते के अभाव के चलते फायर कर्मियों को मौके पर पहुंचने में कड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ा। प्राप्त जानकारी के अनुसार गदरपुर निवासी परमिंदर सिंह संधू के खेत को गदरपुर निवासी हशमत अली द्वारा ठेके पर लिया गया है। गत रविवार को गेहूं की कटाई के बाद खेत में छोड़ी गई नाड़ से भूसा बनाने के लिए ग्राम अमरपुरी निवासी जगदीश सिंह बिष्ट का ट्रैक्टर चालक राकेश अपने सहयोगी जागन के साथ रैपर से भूसा बना रहा था कि अचानक करीब 12 बजे ट्रैक्टर से निकली चिंगारी ने भयावह रूप धारणकर लिया और देखते ही देखते चिंगारी आग की लपटों में तब्दील हो गई। ट्रैक्टर चालक जागन ने जैसे-तैसे रैपर के साथ लगी ट्राली को तो कुंडे से अलग कर दिया परंतु वह ट्रैक्टर और रैपर को आग की लपटों के बीच से नहीं निकाल सका जिसके परिणाम स्वरूप आग ने करीब 20 एकड़ नाड़ जो जलाकर राख कर दिया।  आग की लपटों ने रैफर के साथ ट्रैक्टर को भी अपनी चपेट में ले लिया। आग लगने की जानकारी होने पर आसपास के ग्रामों से सैकड़ों की संख्या में लोग मौके पर पहुंच गए और उन्होंने पेड़ों की टहनियों से आग बुझाना शुरू कर दिया परंतु तब तक टैक्टर जलकर राख हो चुका था। इस बीच ग्रामीणों द्वारा खेत में आग लगने की सूचना पुलिस और फायर बिग्रेड को दी परंतु आग लगने के करीब डेढ़ घंटे बाद फायर बिग्रेड का वाहन मौके पर पहुंचा परंतु खेत तक पहुंचने के लिए कोई रास्ता न होने के कारण फायर ब्रिगेड कर्मियों को कड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ा जिस को लेकर लोगों में भारी नाराजगी बनी रही। समाचार लिखे जाने तक ग्रामीणों की मदद से आग पर काबू पाया जा चुका था। आग लगने के कारण ट्रैक्टर स्वामी जगदीश सिंह बिष्ट को करीब 12 लाख रुपये की क्षति होने का अनुमान है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!