एसआई से मारपीट के मामले में 6 और गिरफ्तार

0

काशीपुर। कुंडेश्वरी चैकी इंचार्ज अर्जुन गिरी गोस्वामी के साथ मारपीट के मामले में फरार चल रहे 6और नामजद आरोपियों को पुलिस ने  दबोचकर पूछ ताछ के बाद न्यायालय के समक्ष पेश किया। आरोपियों में क्षेत्र के सुप्रसिद्ध बिल्डर दीपक बाली भी शामिल है। ज्ञातव्य है कि गत 26 मार्च को खनन के िखलाफ कार्यवाही करने पर क्षेत्र के सैकड़ों खनन कारोबारी तथा स्टोन क्रेशर स्वामी शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे की अगुवाई में कुंडेश्वरी पुलिस चैकी जा धमके। यहां गुस्साई भीड़ ने सरकारी कार्य में बाधा डालते हुए चैकी प्रभारी अर्जुन गिरी गोस्वामी के साथ गाली गलौज करते हुए मारपीट शुरू कर दी। इस दौरान एसआई ने खुद को शौचालय में बंद कर किसी तरह जान बचाई। पुलिस के अफसरों को जैसे ही इसका पता चला एएसपी जगदीश चंद्र, सीओ मनोज कुमार ठाकुर, कोतवाल चंचल शर्मा फोर्स लेकर कुंडेश्वरी पहुंच गए। किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पुलिस ने पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया था। दमखम दिखाने के लिए पुलिस ने अर्धसैनिक बलों की टुकड़ियों के साथ फ्लैग मार्च करने के बाद मारपीट के इस मामले में 20 लोगों को नामजद किया साथ ही सैकड़ों लोगों के िखलाफ अज्ञात में मुकदमा पंजीकृत किया गया। इस मामले में पुलिस सात आरोपियों को पहले ही जेल भेज चुकी है। जबकि बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी न होता देख 7 लोगों के िखलाफ न्यायालय से गैर जमानती वारंट हासिल किए गए। धारा 82 की कार्यवाही के बाद सभी सातों आरोपियों के घर कुर्की की नोटिस चस्पा कर दी गई। पुलिस के बढ़ते दबाव से आरोपी कानून की पकड़ से बचने के लिए इधर-उधर भागने लगे। इसी बीच पुलिस ने चैती व चीमा चैराहे से कार्यवाही के दौरान इंदिरा कॉलोनी निवासी सुप्रसिद्ध बिल्डर दीपक बाली पुत्र रतन लाल, ढकिया नंबर 2निवासी हरजिंदर सिंह पुत्र रणवीर सिंह, मलकीत सिंह पुत्र गुरतेज सिंह जुड़वा नंबर 2 निवासी गुरतेज सिंह पुत्र कश्मीर सिंह, कुंडेश्वरी निवासी राजेंद्र सिंह उर्फ सोनू पुत्र ओमपाल सिंह तथा जुड़वा नंबर 1 कुंडेश्वरी निवासी गुरमीत सिंह उर्फ पहाड़ी पुत्र गुरबचन सिंह को दबोच कर जरूरी पूछताछ के बाद उन्हें न्यायालय के समक्ष पेश किया। बता दे कि घटना के कुछ दिन बाद बिल्डर दीपक बाली की पत्नी उर्वशी वाली ने प्रेस रिलीज जारी कर मारपीट के इस गंभीर मामले में आरोपी दीपक की ओर से सफाई पेश की थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!